तुम तो बोले 80 बरस के मेरी बाली उमरिया Lyrics |Tum To Bhole Assi Baras Ke, Meri Baali Umariya Lyrics

तुम तो बोले 80 बरस के मेरी बाली उमरिया Lyrics

तुम तो भोले अस्सी बरस के, मेरी बाली उमरिया,
बनवाये दे रे भोला मोहि सोने की अटरिया.

इतना सुनकर शिव शंकर ने विश्वर्कमा बुलवाये,
सोने का एक महल बनाया, सोने के कलश धराये,
काग कंगूरे सब सोने के, सोने की किबिड़िया,
बनवाये दे रे भोला मोहि सोने की अटरिया

शिव और गौरा दोनों मिलकर स्वर्ण महल में आये,
रावण जैसे पंडित ज्ञानी पूजन करने आये,
कैसो सुंदर महल बनो है, ठहरे ना नज़रिया,
बनवाये दे रे भोला मोहि सोने की अटरिया

किया संकल्प शिव शंकर ने रावण कर फैलाये,
देहु दक्षिणा मुझको स्वामी कारज सफल बनाये,
क्या देदू मैं इस ब्राह्मण को लेजा ये अटरिया,
बनवाये दे रे भोला मोहि सोने की अटरिया

इसे भी पढ़ें   तेरे संग में रहेंगे, ओ भोले नाथ lyrics | Tere sang main rahenge o Bholenath Lyrics

शिव और गौरा दोनों मिलकर वापिस कैलाश आये,
काशीनाथ कहे जग दाता हमे महल ना भाये,
गौरा बोली साथ चलूंगी तेरी नाथ नगरीया,
ना चाहिए रे भोले मोहि सोने की अटरिया

Tum To Bhole Assi Baras Ke, Meri Baali Umariya Lyrics in English

Tum to bhole assi baras ke, meri baali umariya,
Banvaye de re bhola mohi sone ki atariya.

Itna sunkar Shiv Shankar ne Vishwarkama bulvaye,
Sone ka ek mahal banaya, sone ke kalash dharaaye,
Kaag kangure sab sone ke, sone ki kibdiya,
Banvaye de re bhola mohi sone ki atariya.

Shiv aur Gaura dono milkar swarn mahal mein aaye,
Ravan jaise pandit gyaani pujan karne aaye,
Kaiso sundar mahal bano hai, thahre na nazariya,
Banvaye de re bhola mohi sone ki atariya.

इसे भी पढ़ें   दिल तुझको दिया ओ भोले नाथ लिरिक्स हिंदी| Dil Tujhko Diya O Bholenath Lyrics

Kiya sankalp Shiv Shankar ne Ravan kar failaye,
Dehu dakshina mujhko swami kaaraj safal banaye,
Kya dedu main is Brahman ko leja ye atariya,
Banvaye de re bhola mohi sone ki atariya.

Shiv aur Gaura dono milkar vaapis Kailash aaye,
Kashinath kahe jag data hame mahal na bhaye,
Gaura boli saath chalungi teri naath nagariya,
Na chaahiye re bhola mohi sone ki atariya.

अपनों से साझा करें

Leave a Comment