साँवरे की महफ़िल को,सांवरा सजाता है Lyrics | Sanware Ki Mehfil Ko Sanwara Sajata Hai Bhajan Lyrics

साँवरे की महफ़िल को,सांवरा सजाता है Lyrics

गहरा हो नाता बाबा का जिनसे,
मिलने को बाबा आता है उनसे,
उनका वो साथी बन जाता है,
साँवरे की महफ़िल को,
सांवरा सजाता है,
किस्मत वालो के,
घर में श्याम आता हैं।।

कृपा बरसती है जिसपे इसकी,
तक़दीर लिखता हाथो से उसकी,
गम का अंधेरा छट जाता है,
साँवरे की महफ़िल को,
सांवरा सजाता है,
किस्मत वालो के,
घर में श्याम आता हैं।।

भजन सुनाते जो इसको प्यारे,
उसके तो परिवार के वारे न्यारे,
मंदिर सा घर बन जाता है,
साँवरे की महफ़िल को,
सांवरा सजाता है,
किस्मत वालो के,
घर में श्याम आता हैं।।

इसे भी पढ़ें   म्हाने राखे म्हारो श्याम हथेली पे Lyrics | Mhane Rakhe Mharo Shyam Hatheli Pe Lyrics

कुछ भी असंभव होता नही है,
महफ़िल में इसकी होता यही है,
सब कुछ ‘सुनील’ यहाँ मिल जाता है,
साँवरे की महफ़िल को,
सांवरा सजाता है,
किस्मत वालो के,
घर में श्याम आता हैं।।

सांवरे की महफ़िल को,
सांवरा सजाता है,
किस्मत वालो के,
घर में श्याम आता हैं।।

Sanware Ki Mehfil Ko Sanwara Sajata Hai Bhajan Lyrics

Gehra ho nata baba ka jinse,
Milne ko baba aata hai unse,
Unka vo saathi ban jaata hai,
Saavre ki mahfil ko,
Saavara sajata hai,
Kismat walo ke,
Ghar mein Shyam aata hai.

Kripa barsati hai jispe iski,
Taqdeer likhta haathon se uski,
Gam ka andhera chhat jaata hai,
Saavre ki mahfil ko,
Saavara sajata hai,
Kismat walo ke,
Ghar mein Shyam aata hai.

इसे भी पढ़ें   श्याम थारी चौखट पे आयो हु हार के Lyrics | Shyam Thari Chaukhat Pe Bhajan Lyrics

Bhajan sunate jo isko pyare,
Uske to parivaar ke vaare nyaare,
Mandir sa ghar ban jaata hai,
Saavre ki mahfil ko,
Saavara sajata hai,
Kismat walo ke,
Ghar mein Shyam aata hai.

Kuch bhi asambhav hota nahi hai,
Mahfil mein iski hota yahi hai,
Sab kuch ‘Sunil’ yahan mil jaata hai,
Saavre ki mahfil ko,
Saavara sajata hai,
Kismat walo ke,
Ghar mein Shyam aata hai.

Saavre ki mahfil ko,
Saavara sajata hai,
Kismat walo ke,
Ghar mein Shyam aata hai.

अपनों से साझा करें

Leave a Comment