Parvati ji mana ke haari na maane Tripuraari पार्वती जी मना के हारी ना माने त्रिपुरारी

पार्वती जी मना के हारी ना माने त्रिपुरारी Lyrics in Hindi

इक दिन वो भोले भंडारी बन करके ब्रज की नारी ब्रज में आ गए
पार्वती भी मना के हारी ना माने त्रिपुरारी ब्रज में आ गए

पार्वती से बोले मैं भी चलूँगा तेरे संग मैं
राधा संग श्याम नाचे, मैं भी नाचूँगा तेरे संग में
रास रचेगा ब्रज मैं भारी हमे दिखादो प्यारी

ओ मेरे भोले स्वामी, कैसे ले जाऊं अपने संग में
श्याम के सिवा वहां पुरुष ना जाए उस रास में
हंसी करेगी ब्रज की नारी मानो बात हमारी

ऐसा बना दो मोहे कोई ना जाने एस राज को
मैं हूँ सहेली तेरी ऐसा बताना ब्रज राज को
बना के जुड़ा पहन के साड़ी चाल चले मतवाली

इसे भी पढ़ें   गोकुल में आये त्रिपुरारी बने है भोला सुंदर नारी Lyrics | Gokul mein aaye Tripurari Lyrics

हंस के सत्ती ने कहा बलिहारी जाऊं इस रूप में
इक दिन तुम्हारे लिए आये मुरारी इस रूप मैं
मोहिनी रूप बनाया मुरारी अब है तुम्हारी बारी

देखा मोहन ने समझ गये वो सारी बात रे
ऐसी बजाई बंसी सुध बुध भूले भोलेनाथ रे
सिर से खिसक गयी जब साड़ी मुस्काये गिरधारी

दीनदयाल तेरा तब से गोपेश्वर हुआ नाम रे
ओ भोले बाबा तेरा वृन्दावन बना धाम रे

Parvati ji mana ke haari na maane Tripuraari Lyrics in English

Ek din vo bhole bhandaari ban karke Braj ki naari Braj mein aa gaye
Parvati bhi mana ke haari na maane Tripuraari Braj mein aa gaye

इसे भी पढ़ें   भोले बाबा ने ऐसा डमरू बजाया सारा कैलाश पर्वत मगन हो गया

Parvati se bole main bhi chaloonga tere sang main
Radha sang Shyam naache, main bhi naachoonga tere sang mein
Raas rachega Braj main bhaari hame dikhado pyaari

O mere bhole Swami, kaise le jaaun apne sang mein
Shyam ke siva wahaan purush na jaaye us raas mein
Hansi karegi Braj ki naari maano baat hamaari

Aisa bana do mohe koi na jaane ais raj ko
Main hoon saheli teri aisa batana Braj raj ko
Bana ke juda pehen ke saadi chaal chale matwaali

Hans ke satti ne kaha balihari jaaoon is roop mein
Ek din tumhaare liye aaye Muraari is roop mein
Mohini roop banaya Muraari ab hai tumhaari baari

इसे भी पढ़ें   मुझको नंदी बना ले अपना संगी बना ले| Mujhko Nandi bana le Apna sangi bana le Lyrics

Dekha Mohan ne samajh gaye wo saari baat re
Aisi bajaayi bansi sudh budh bhule Bholenath re
Sir se khisak gayi jab saadi muskaaye Giridhaari

Deendayal tera tab se Gopeshwar hua naam re
O Bhole Baba tera Vrindavan bana dhaam re

अपनों से साझा करें

Leave a Comment