पार्वती बोली भोले से ऐसा महल बना देना लिरिक्स | Parvati Boli Bhole Se Aisa Mahal Bana Dena Lyrics

Parvati boli bhole se aisa mahal bana dena lyrics download, एक महल ऐसा बनवा दो लिरिक्स, पार्वती बोली शंकर सेऐसा महल बना देना

पार्वती बोली भोले से ऐसा महल बना देना लिरिक्स

पार्वती बोली भोले से ऐसा महल बना देना,
कोई भी देखे तो ये बोले
क्या कहना भाई क्या कहना,

जिसदिन से मैं विवहा के आई
भाग्ये हमारे फुट गये,
पीसक पीसक भंगियाँ तेरी
हाथ हमारे टूट गये,
कान खोल कर सुन ले मोड़े
अव पर्वत पर ना रहना,
कोई भी देखे तो ये बोले
क्या कहना भाई क्या कहना,

पार्वती से बोले भोले तेरे मन में धीर नहीं,
इन ऊचे महलो में रहना
ये अपनी तकदीर नहीं,
करू तपस्या मैं पर्वत पर
हमे महल का क्या करना,
कोई भी देखे तो ये बोले
क्या कहना भाई क्या कहना,

सोना चांदी हीरे मोती
चमक रहे हो चम् चम्,
दास दासियाँ करे हाज़री
मेरी सेवा में हर दम,
बिना इजाजत कोई न आवे
पहरेदार बिठा देना,
कोई भी देखे तो ये बोले
क्या कहना भाई क्या कहना,

इसे भी पढ़ें   Bam Bam Bhole Shankar Gale Mein Nag Bhayankar Lyrics

पार्वती की ज़िद के आगे
भोले बाबा हार गये,
सूंदर महल बनाने खातिर
विश्वकर्मा तैयार हुए,
पार्वती लक्ष्मी से बोली
ग्रह प्रवेश में आ जाना,
कोई भी देखे तो ये बोले
क्या कहना भाई क्या कहना,

ग्रह प्रवेश करने की खातिर
पंडत को भुलवाया था,
विषर वहां था बड़ा ही ज्ञानी
गृहप्रवेश करवाया था,
सूंदर महल बना सोने का
इसे दान में दे देना,
कोई भी देखे तो ये बोले
क्या कहना भाई क्या कहना,

जिसकी जो तकदीर है संजू
बस उतना ही मिलता है,
मालिक की मर्जी के बिना तो
पत्ता तक न हिलता है,
तू तो भजन किये जा प्यारे
इस दुनिया से क्या लेना,
कोई भी देखे तो ये बोले
क्या कहना भाई क्या कहना,

इसे भी पढ़ें   गोरा मैया चली कैलाश डमरू बजने लगा Lyrics, Gaura Maiya chali Kailash, ki damru bajne laga Lyrics

Parvati Boli Bhole Se Aisa Mahal Bana Dena Lyrics in English

Parvati boli bhole se aisa mahal bana dena,
Koi bhi dekhe to ye bole,
Kya kehna bhai kya kehna,

Jis din se main vivah ke aai
Bhagye hamare phut gaye,
Peesak peesak bhangiyan teri
Haath hamare toot gaye,
Kaan khol kar sun le mode
Ab parvat par na rehna,
Koi bhi dekhe to ye bole,
Kya kehna bhai kya kehna,

Parvati se bole bhole tere man mein dheer nahi,
In uche mahalo mein rehna
Ye apni takdeer nahi,
Karu tapasya main parvat par
Hame mahal ka kya karna,
Koi bhi dekhe to ye bole,
Kya kehna bhai kya kehna,

Sona chandi heere moti
Chamak rahe ho cham cham,
Daas daasiyan kare hazari
Meri seva mein har dam,
Bina ijazat koi na aave
Pahredar bitha dena,
Koi bhi dekhe to ye bole,
Kya kehna bhai kya kehna,

इसे भी पढ़ें   Lyrics हमारे भोले बाबा को मना लो जिसका दिल चाहे | Hamare Bhole Baba Ko Manalo Jiska Dil Chahe Lyrics

Parvati ki zid ke aage
Bhole baba haar gaye,
Sundar mahal banane khateer
Vishwakarma taiyar hue,
Parvati Lakshmi se boli
Grah pravesh mein aa jana,
Koi bhi dekhe to ye bole,
Kya kehna bhai kya kehna,

Grah pravesh karne ki khateer
Pandit ko bhulvaya tha,
Vishar wahin tha bada hi gyaani
Grihpravesh karvaya tha,
Sundar mahal bana sone ka
Ise daan mein de dena,
Koi bhi dekhe to ye bole,
Kya kehna bhai kya kehna,

Jiski jo takdeer hai sanju
Bas utna hi milta hai,
Malik ki marzi ke bina to
Patta tak na hilta hai,
Tu to bhajan kiye ja pyaare
Is duniya se kya lena,
Koi bhi dekh to ye bole,
Kya kehna bhai kya kehna.

अपनों से साझा करें

Leave a Comment