मुझे श्याम अपने गले से लगा लो Lyrics | Mujhe Shyam Apne Gale Se Laga Lo Lyrics

मुझे श्याम अपने गले से लगा लो Lyrics

मुझे श्याम अपने, गले से लगा लो,
ज़माने की ठोकर, बहुत खा चूका हूँ,
मिला ना मुझे कुछ भी, अपना बना लो,
मुझें श्याम अपने, गले से लगा लो।।

प्यार चाहा मगर, मैंने पाया नही,
चैन दिल को कहीं, मेरे आया नहीं,
सुना ना किसी ने, अपना फ़साना,
बहुत हो चूका अब, दाता संभालो,
मुझें श्याम अपने, गले से लगा लो।।

बस मुझको इतना कह दो, तुमको अपना बना लिया,
चिंता क्यों करता है तू, सर पे तेरे हाथ मेरा,
अहसान तेरा, सदा ये रहेगा,
चरणों में अपने, मुझको बिठा लो,
मुझें श्याम अपने, गले से लगा लो।।

इसे भी पढ़ें   Lyrics जाके सिर पे हाथ म्हारे श्याम धनी को होवे है | Jaake sir pe haath mhare Shyam dhani ko hove hai Bhajan Lyrics

जब से मैंने सुना, तुम दयालु बड़े,
जिसका कोई नहीं, उसके तुम सांवरे,
चला आया मैं भी, दर पे तुम्हारे,
खड़ा एक तरफ हूँ, नजरे मिला लो,
मुझें श्याम अपने, गले से लगा लो।।

श्याम बहादुर शिव का तो, जनम जनम का नाता है,
मात पिता भाई बंधू, तू ही भाग्य विधाता है,
दया इतनी करना, मुझपे मुरारी,
रहूँ तेरे दर पे, इतनी कृपा हो,
मुझें श्याम अपने, गले से लगा लो।।

मुझे श्याम अपने, गले से लगा लो,
ज़माने की ठोकर, बहुत खा चूका हूँ,
मिला ना मुझे कुछ भी, अपना बना लो,
मुझें श्याम अपने, गले से लगा लो।।

इसे भी पढ़ें   Lyrics मन की बाता सांवरिये ने आज सुणाके देख ले | Man Ki Baata Sawariya Ne Aaj Suna Kar Dekh Le Lyrics

Mujhe Shyam Apne Gale Se Laga Lo Lyrics in English

Mujhe Shyam apne, gale se laga lo,
Zamane ki thokar, bahut kha chuka hoon,
Mila na mujhe kuch bhi, apna bana lo,
Mujhe Shyam apne, gale se laga lo.

Pyar chaha magar, maine paya nahi,
Chain dil ko kahin, mere aaya nahi,
Suna na kisi ne, apna fasana,
Bahut ho chuka ab, data sambhalo,
Mujhe Shyam apne, gale se laga lo.

Bas mujhko itna keh do, tumko apna bana liya,
Chinta kyun karta hai tu, sar pe tere haath mera,
Ahsan tera, sada ye rahega,
Charano mein apne, mujhko bitha lo,
Mujhe Shyam apne, gale se laga lo.

इसे भी पढ़ें   ऐसा है मेरा साँवरिया Lyrics | Aisa Hai Mera Sawariya Lyrics

Jab se maine suna, tum dayalu bade,
Jiska koi nahi, uske tum sanvare,
Chala aaya main bhi, dar pe tumhare,
Khada ek taraf hoon, nazar mila lo,
Mujhe Shyam apne, gale se laga lo.

Shyam Bahadur Shiv ka to, janam janam ka nata hai,
Maat pita bhai bandhu, tu hi bhagya vidhata hai,
Daya itni karna, mujhpe Murari,
Rahoon tere dar pe, itni kripa ho,
Mujhe Shyam apne, gale se laga lo,
Mujhe Shyam apne, gale se laga lo.

अपनों से साझा करें

Leave a Comment