मिथिला में राम खेले होली Lyrics | Mithila Me Ram Khele Holi Lyrics

मिथिला में राम खेले होली Lyrics | Mithila Me Ram Khele Holi Lyrics

मिथिला में राम खेले होली,
मिथिला में राम खेले होली,
हो खेले होली,हो खेले होली,मिथिला में,
मिथिला में राम खेले होली,
मिथिला में राम खेले होली।

किनके हाथ कनक पिचकारी,
किनके हाथ अबीर झोली,
किनके हाथ अबीर झोली,मिथिला में,
मिथिला में राम खेले होली,
मिथिला में राम खेले होली।

मिथिला में,मिथिला में राम खेले होली,
हो खेले होली,हो खेले होली,मिथिला में,
मिथिला में,मिथिला में राम खेले होली,

राम हाथ कनक पिचकारी,
राम हाथ कनक पिचकारी
सीता हाथ अबीर झोली,सी
ता हाथ अबीर झोली,मिथिला में,
मिथिला में राम खेले होली,
मिथिला में राम खेले होली।

इसे भी पढ़ें   श्री राम से कह देना एक बात अकेले में लिरिक्स | Shri Ram Se Keh Dena Ek Baat Akele Mein Lyrics

मिथिला में,मिथिला में राम खेले होली,
हो खेले होली,हो खेले होली,मिथिला में,
मिथिला में,मिथिला में राम खेले होली,

किनका बीच पियर पितांबर,
किनके बीच कुसुम चूनरी,
किनके बीच कुसुम चूनरी,मिथिला में,
मिथिला में राम खेले होली,मिथिला में,
मिथिला में राम खेले होदली।

मिथिला में,मिथिला में राम खेले होली,
हो खेले होली,हो खेले होली,मिथिला में,
मिथिला में,मिथिला में राम खेले होली,
मिथिला में,मिथिला में राम खेले होली।

राम के बीच पियर पितांबर,
सिता बीच कुसुम चूनरी,सिता
बीच कुसुम चूनरी,मिथिला में,
मिथिला में राम खेले होली,मिथिला में,
मिथिला में राम खेले होली।

मिथिला में,मिथिला में राम खेले होली
हो खेले होली,हो खेले होली,मिथिला में,
मिथिला में,मिथिला में राम खेले होली,
मिथिला में,मिथिला में राम खेले होली।

इसे भी पढ़ें   रामा रामा रटते रटते बीती रे उमरिया | Rama Rama Ratte Ratte Bhajan Lyrics
अपनों से साझा करें

Leave a Comment