म्हारे सिर पर है बाबा जी रो हाँथ Lyrics | Mhare Sir Par Hai Babaji Ro Hath Lyrics

म्हारे सिर पर है बाबा जी रो हाँथ Lyrics

म्हारे सिर पर है बाबा जी रो हाँथ
कोई तो म्हारो काई करसी

जै कोई म्हारे श्याम धनि नै साँचे मन से ध्यावे
काल कपाल भी साँवरिये के भगतां से घबरावे
जै कोई पकड़्यो है बाबा जी रो हाँथ
बीको तो कोई काई करसी

म्हारे सिर पर है बाबा जी रो हाँथ
कोई तो म्हारो काई करसी

जो आंपे बिस्वास करे वो खूंटी तान के सोवे
बठे प्रवेश करे ना कोई बाल ना बांको होवे
जाके मन में नहीं है विस्वास
बांको तो बाबो काई करसी

म्हारे सिर पर है बाबा जी रो हाँथ
कोई तो म्हारो काई करसी

इसे भी पढ़ें   म्हारा खाटू का राजा रे तू तो बेगो बेगो आजा रे Lyrics | Mhara Khatu Ka Raja Re Lyrics

कलयुग को यो देव बड़ो, दुनिया में नाम कमायो
जद जद भीड़ पड़ी भगतां पर, दौड्यो दौड्यो आयो
यो तो घट घट की जाने सारी बात
कोई तो म्हारो काई करसी

म्हारे सिर पर है बाबा जी रो हाँथ
कोई तो म्हारो काई करसी

Mhare Sir Par Hai Babaji Ro Hath Lyrics in English

Mhare sir par hai Baba ji ro haath
Koi to mharo kai karse

Jai koi mhare Shyam dhani nai saanche man se dhyaave
Kaala kapal bhi saanwariye ke bhagtan se ghabraave
Jai koi pakadyo hai Baba ji ro haath
Biko to koi kai karse

Mhare sir par hai Baba ji ro haath
Koi to mharo kai karse

इसे भी पढ़ें   श्याम बाबा को श्रृंगार मन भावे Lyrics | Shyam Baba Ko Shringar Man Bhave Lyrics

Jo aampe vishwas kare vo khooti taan ke sove
Bathe pravesh kare na koi baal na banko hove
Jaa ke man mein nahi hai vishwas
Banko to babo kai karse

Mhare sir par hai Baba ji ro haath
Koi to mharo kai karse

Kalyug ko yo dev bado, duniya mein naam kamayo
Jad jad bheed padi bhagtan par, daudyo daudyo aayo
Yo to ghat ghat ki jaane saari baat
Koi to mharo kai karse

Mhare sir par hai Baba ji ro haath
Koi to mharo kai karse

अपनों से साझा करें

Leave a Comment