माँ तेरे चरणों में हम शीश झुकाते हैं लिरिक्स | Maa Tere Charno Mein Hum Sheesh Jhukate Hain Lyrics

माँ तेरे चरणों में हम शीश झुकाते हैं लिरिक्स

माँ तेरे चरणों में हम शीश झुकाते हैं।

झंकार करो ऐसी, सद्भाव उभर आये।
हुँकार भरो ऐसी, दुर्भाव उखड़ जाये ।।
सन्मार्ग न छोड़ेंगे, हम शपथ उठाते हैं।
माँ तेरे चरणों में, हम शीश झुकाते हैं ।।

यदि स्वार्थ हेतु मांगें, दुत्कार भले देना।
जनहित हम याचक हैं, सुविचार हमें देना ।
सब राह चलें तेरी, तेरे जो कहाते हैं।
माँ तेरे चरणों में, हम शीश झुकाते हैं ।।

वह हास हमें दो माँ, सारा जग मुस्काये।
जीवन भर ज्योति जले, स्नेह न चुक पाये
अभिमान न हो उसका जो कुछ कर पाते हैं
माँ तेरे चरणों में, हम शीश झुकाते हैं।

इसे भी पढ़ें   तेरे दरबार में मैया खुशी मिलती है लिरिक्स | Tere darbar mein Maaya khushi milti hai Lyrics

विश्वास करो माता हम पूत तुम्हारे हैं।
बलिदान क्षेत्र के माँ हम दूत तुम्हारे हैं
कुछ त्याग नहीं अपना बस कर्ज चुकाते हैं
माँ तेरे चरणों में हम शीश झुकाते हैं।

Maa Tere Charno Mein Hum Sheesh Jhukate Hain Lyrics in English

Maa tere charno mein hum sheesh jhukate hain.

Jhankar karo aisi, sadbhav ubhar aaye.
Hunkar bharo aisi, durbhav ukhad jaye.
Sanmaarg na chhodenge, hum shapath uthate hain.
Maa tere charno mein, hum sheesh jhukate hain.

Yadi swaarth hetu maangein, dutkaar bhale dena.
Janhit hum yaachak hain, suvichar hamein dena.
Sab raah chalein teri, tere jo kehte hain.
Maa tere charno mein, hum sheesh jhukate hain.

इसे भी पढ़ें   मईया ओढ़ चुनरिया लाल हमारे घर आ जाना| Maiya Odh Chunariya Lal Hamare Ghar aa Jana Lyrics

Woh haas hamein do Maa, saara jag muskaye.
Jeevan bhar jyoti jale, sneh na chuk paaye.
Abhimaan na ho uska jo kuch kar paate hain.
Maa tere charno mein, hum sheesh jhukate hain.

Vishwas karo Maa hum put tumhare hain.
Balidaan kshetra ke Maa hum doot tumhare hain.
Kuch tyag nahin apna, bas karz chukate hain.
Maa tere charno mein hum sheesh jhukate hain.

अपनों से साझा करें

Leave a Comment