काशी का टिकट कटा दे मेरे भोले लिरिक्स |Kashi ka ticket kata de mere bhole Lyrics

काशी का टिकट कटा दे मेरे भोले लिरिक्स

काशी का टिकट कटा दे मेरे भोले,
मैं तो बैठ रेल में आऊ रे मेरे भोले भंडारी ।। टेर।।

इस पार गंगा उस पार यमुना
मैं तो गंगा में डुबकी लगाओ रे मेरे भोले भंडारी ।।१।।

ढोने में रबड़ी हाथों में जलेबी
मैं तो बैठे रेल में खाऊं रे मेरे भोले भंडारी ।।२।।

आक धतूरा और बेल पत्ती
मैं तो बैरों का भोग लगाऊ रे मेरे भोले भंडारी ।।३।।

हाथों में ढोलक साथ में चिमटा
गुरु मंडली के संग गाऊ रे मेरे भोले भंडारी ।।४।।

काशी का टिकट कटा दे मेरे भोले,

इसे भी पढ़ें   नंदी पर बिठाकर घुमा दे भोले जोगिया Lyrics | Nandi pe bitha ke tu Ghuma de bhole yogiya Lyrics

Kashi ka ticket kata de mere bhole Lyrics in English

Kashi ka ticket kata de mere bhole,
Main to baith rail mein aau re mere bhole bhandari. Ter.

Is paar Ganga, us paar Yamuna,
Main to Ganga mein dubki lagao re mere bhole bhandari. 1.

Dhone mein rabri, haathon mein jalebi,
Main to baithe rail mein khau re mere bhole bhandari. 2.

Aak dhatura aur bel patti,
Main to bairon ka bhog lagaau re mere bhole bhandari. 3.

Haathon mein dholak, saath mein chimta,
Guru mandali ke sang gau re mere bhole bhandari. 4.

Kashi ka ticket kata de mere bhole.

इसे भी पढ़ें   तेरे डमरू की धुन सुनकर तेरे दरबार आया हूं लिरिक्स | Tere damru ki dhun sunkar Tere darbar aaya hoon lyrics
अपनों से साझा करें

Leave a Comment