Lyrics कभी फुर्सत हो तो जगदंबे निर्धन के घर भी आ जाना | Kabhi Fursat Ho To Jagdambe Lyrics

कभी फुर्सत हो तो जगदंबे निर्धन के घर भी आ जाना lyrics

कभी फुर्सत हो तो जगदम्बे,
निर्धन के घर भी आ जाना
जो रूखा सूखा दिया हमें,
कभी उस का भोग लगा जाना

ना छत्र बना सका सोने का,
ना चुनरी घर मेरे टारों जड़ी
ना पेडे बर्फी मेवा है माँ,
बस श्रद्धा है नैन बिछाए खड़े
इस श्रद्धा की रख लो लाज हे माँ,
इस विनती को ना ठुकरा जाना
जो रूखा सूखा दिया हमें,
कभी उस का भोग लगा जाना
कभी फुर्सत हो तो जगदम्बे,
निर्धन के घर भी आ जाना

जिस घर के दिए मे तेल नहीं,
वहां जोत जगाओं कैसे
मेरा खुद ही बिशोना डरती माँ,
तेरी चोंकी लगाऊं मै कैसे
जहाँ मै बैठा वही बैठ के माँ,
बच्चों का दिल बहला जाना
जो रूखा सूखा दिया हमें,
कभी उस का भोग लगा जाना
कभी फुर्सत हो तो जगदम्बे,
निर्धन के घर भी आ जाना

इसे भी पढ़ें   Lyrics शेर पे सवार मेरी शेराँवाली माँ | Sher Pe Sawar Meri Sherawali Maa Lyrics

तू भाग्य बनाने वाली है,
माँ मै तकदीर का मारा हूँ
हे दाती संभाल भिकारी को,
आखिर तेरी आँख का तारा हूँ
मै दोषी तू निर्दोष है माँ,
मेरे दोषों को तूं भुला जाना
कभी फुर्सत हो तो जगदम्बे,
निर्धन के घर भी आ जाना

Kabhi Fursat Ho To Jagdambe Lyrics In English

Kabhi fursat ho to Jagdambe,
Nirdhan ke ghar bhi aa jana
Jo rukha sukha diya hamein,
Kabhi us ka bhog laga jana

Na chatra bana saka sone ka,
Na chunri ghar mere taron jadi
Na pede barfi mewa hai maa,
Bas shraddha hai nain bichhaye khade
Is shraddha ki rakh lo laaj hey maa,
Is vinati ko na thukra jana
Jo rukha sukha diya hamein,
Kabhi us ka bhog laga jana
Kabhi fursat ho to Jagdambe,
Nirdhan ke ghar bhi aa jana

इसे भी पढ़ें   मैया ये जीवन हमारा आप के चरणों में है | Maya ye jeevan hamara aap ke charano mein hai Lyrics

Jis ghar ke diye mein tel nahi,
Vahan jyot jagaon kaise
Mera khud hi bishona darti maa,
Teri chonki lagaun main kaise
Jahan main baitha wahi baith ke maa,
Bachchon ka dil behlaja jana
Jo rukha sukha diya hamein,
Kabhi us ka bhog laga jana
Kabhi fursat ho to Jagdambe,
Nirdhan ke ghar bhi aa jana

Tu bhagya banane wali hai,
Maa main takdeer ka mara hoon
Hey daati sambhal bhikari ko,
Aakhir teri aankh ka tara hoon
Main doshi tu nirdosh hai maa,
Mere doshon ko tu bhula jana
Kabhi fursat ho to Jagdambe,
Nirdhan ke ghar bhi aa jana

इसे भी पढ़ें   पहिले पहिल हम कईनी छठी मईया व्रत तोहार | Pahile Pahile Hum Kaini Chhathi Maiya Barat Tohar Lyrics
अपनों से साझा करें

Leave a Comment