कीर्तन भजन लिरिक्स|Kirtan Bhajan Lyrics

कीर्तन भजन लिरिक्स, लेडीज कीर्तन भजन लिरिक्स, अच्छे-अच्छे भजन कीर्तन, कीर्तन भजन लिरिक्स mata rani, न्यू कीर्तन भजन lyrics, फिल्मी तर्ज पर कीर्तन भजन, लेडीज कीर्तन भजन लिरिक्स, ढोलक भजन लिरिक्स, पुराना भजन लिरिक्स, अच्छे-अच्छे भजन कीर्तन, सत्संगी भजन लिरिक्स, नाचने वाले भजन लिरिक्स, 

मुझे अपने ही रंग में रंगले मेरे यार सांवरे लिरिक्स

मुझे अपने ही रंग में रंगले,

मेरे यार सांवरे,

मेरे यार सांवरे दिलदार सांवरे ॥

ऐसा रंग तू रंग दे सांवरिया,

जो उतरे ना जनम जनम तक,

नाम तू अपना लिख दे कन्हैया,

मेरे सारे बदन पर,

मुझे अपना बना के देखो,

एक बार सांवरे ॥

श्याम पिया मोरी रंग दे चुनरिया,

बिना रंगाये मैं घर नहीं जाउंगी,

बीत जाए चाहे सारी उमरिया,

हरी ना रंगाऊ मैं तो पिली ना रंगाऊंगी,

अपने ही रंग में रंग दे सांवरिया,

ऐसी रंग दे जो रंग नाही छूटे,

धोबिया धोये चाहे सारी उमरिया,

जो नाही रंगो तो मोल ही मंगाए दो,

ब्रज में खुली है प्रेम बजरिया,

या चुनरी को ओड मैं तो यमुना पे जाउंगी,

श्याम की मोपे पड़ेगी नजरिया,

मेरे जीवन की नैया लेजा उस पास सांवरे,

मुझे अपना बना के देखो,

एक बार सांवरे ॥

भव सागर में ऐ मनमोहन,

माझी बन कर आना,

ना भटकूँ इधर उधर हे प्यारे,

मुरली मधुर सुनाना,

मेरी जीवन लेजा उस पार सांवरे,

मुझे अपना बना के देखो,

एक बार सांवरे ॥

प्रीत लगाना प्रीतम ऐसी,

निभ जाए मरते दम तक,

इसके सिवा ना तुझसे चाहा,

ना कुछ माँगा अब तक,

मेरे कान्हा तुम बिन जीना बेकार सांवरे,

मुझे अपना बना के देखो,

एक बार सांवरे ॥

मुझे अपने ही रंग में रंगले,

मेरे यार सांवरे,

मेरे यार सांवरे दिलदार सांवरे ॥

मेरे राम दया के सागर हैं लिरिक्स

मेरे राम, दया के सागर हैं,

मेरी विगड़ी बनाओ, तो जाने ll

त्रेता में आए, तो क्या आए,

द्वापर में आए, तो क्या आए ll

कल्युग में आओ, तो जाने,

मेरी विगड़ी बनाओ, तो जाने l

मेरे राम, दया के………….

अयोधिया में आए, तो क्या आए,

मथुरा में आए, तो क्या आए ll

मेरे घर में आओ, तो जाने,

मेरी विगड़ी बनाओ, तो जाने l

मेरे राम, दया के………….

मंदिर में आए, तो क्या आए,

मूर्त में आए, तो क्या आए ll

मेरे दिल में आओ, तो जाने,

मेरी विगड़ी बनाओ, तो जाने l

मेरे राम, दया के………….

दशरथ घर आए, तो क्या आए,

यशोधा घर आए, तो क्या आए ll

मेरे घर आओ, तो जाने,

मेरी विगड़ी बनाओ, तो जाने l

मेरे राम, दया के………….

पूजा में आए, तो क्या आए,

आरती में आए, तो क्या आए ll

मेरे कीर्तन आओ, तो जाने,

मेरी विगड़ी बनाओ, तो जाने l

मेरे राम, दया के………….

जरा फुल बिछादो आँगन में मेरी मैया आने वाली है लिरिक्स

जरा फुल बिछादो आँगन में,

मेरी मैया आने वाली है,

मेरी मैया आने वाली है,

मेरी मैया आने वाली है,

जरा फुल बिछादो आँगन में,

मेरी मैया आने वाली है ॥

कोई मैया की पायल ले आयो,

कोई मैया के बिछुए ले आओ,

सब मैया की जय जयकर करो,

मेरी मैया आने वाली है,

जरा फुल बिछादो आँगन में,

मेरी मैया आने वाली है ॥

कोई मैया के कंगन ले आओ,

कोई मैया की  चूड़ी ले आओ,

सब मैया की जय जयकार करो,

मेरी मैया आने वाली है,

जरा फुल बिछादो आँगन में,

मेरी मैया आने वाली है ॥

कोई मैया के कुंडल ले आओ,

कोई मैया के झुमके ले आओ,

सब मैया की जय जयकार करो,

मेरी मैया आने वाली है,

जरा फुल बिछादो आँगन में,

मेरी मैया आने वाली है ॥

कोई मैया की बिंदिया  ले आओ,

कोई मैया का टिका ले आओ,

सब मैया की जय जयकार करो,

मेरी मैया आने वाली है,

जरा फुल बिछादो आँगन में,

मेरी मैया आने वाली है ॥

कोई हल्वा पूरी  ले आओ,

कोई ध्वजा नारियल ले आओ,

सब मैया की जय जयकार करो,

मेरी मैया आने वाली है,

जरा फुल बिछादो आँगन में,

मेरी मैया आने वाली है ॥

कान्हा तू काला मैं गोरी घणी लिरिक्स

कान्हा तू काला मैं गोरी घणी

बरसाने चलेगे दोनों जने

कान्हा तू चंदा मैं चांदनी

आधी रात को मिलेगे दोनों जने

कान्हा तू काला मैं गोरी घणी

कान्हा तू बादल मैं बिजली

सावन में मिलेगे दोनों जने

कान्हा तू काला मैं गोरी घणी

कान्हा तू बंशी मैं तान हूँ

रासो में मिलेगे दोनों जने

कान्हा तू काला मैं गोरी घणी

कान्हा तू रहने वाला नंदगांव का

मेरा ठोर ठिकाना बरसाने में

कान्हा तू काला मैं गोरी घणी

कान्हा तू निधिवन में आ जाइयो

हम रास करेगे दोनों जने

कान्हा तू काला मैं गोरी घणी

कान्हा तू माखन मैं मिश्री

भोगो में मिलेगे दोनों जने

कान्हा तू काला मैं गोरी घणी

मेरी नैया में लक्ष्मण राम गंगा मैया धीरे बहो लिरिक्स

मेरी नैया में लक्ष्मण राम,

ओ गंगा मैयाँ धीरे बहो,

गंगा मैयाँ हो गंगा मैयाँ,

मेरी नैया मे चारों धाम,

ओ गंगा मैयाँ धीरे बहो,

गंगा मैयाँ हो गंगा मैयाँ ॥

उछल उछल मत मारो हिचकोले,

देख हिचकोले,

मेरा मनवा डोले,

मेरी नैया में चारों धाम, गंगा मैयाँ धीरे बहो,

मेरी नैया मे लक्ष्मण राम गंगा मैयाँ धीरे बहो ॥

गंगा मैयाँ हो गंगा मैयाँ ॥

टूटी फूटी काठ की नैया,

तूम बिन मैयाँ कौन खिवैया,

मेरी नैया है बीच मझधार, ओ गंगा मैयाँ धीरे बहो

मेरी नैया मे लक्ष्मण राम गंगा मैयाँ धीरे बहो ॥

गंगा मैयाँ हो गंगा मैयाँ ॥

दीन दुखी के यह रखवाले,

दुष्टो को भी यह तराने वाले,

अब आए है मेरे धाम, ओ गंगा मैयाँ धीरे बहो,

मेरी नैया में लक्ष्मण राम गंगा मैयाँ धीरे बहो ॥

गंगा मैयाँ हो गंगा मैयाँ ॥

मेरी नैया मे लक्ष्मण राम

ओ गंगा मैयाँ धीरे बहो

गंगा मैयाँ हो गंगा मैयाँ,

मेरी नैया में चारों धाम,

ओ गंगा मैयाँ धीरे बहो

गंगा मैयाँ हो गंगा मैयाँ ॥

बजती है ढोलक बजाने वाला चाहिए लिरिक्स

बजती है ढोलक बजाने वाला चाहिए,

आती है मईया बुलाने वाला चाहिए,

बजती है ढोलक बजाने वाला चाहिए ॥

बच्चो से मईया कभी रूठ भी जाये तू,

मानती है मईया मनाने वाला चाहिए,

आती है मईया बुलाने वाला चाहिए,

बजती है ढोलक बजाने वाला चाहिए ॥

सारे बोलो जय माता दी,

करो सहाई जय माता दी,

श्री बाण गंगा जय माता दी,

पानी ठंडा जय माता दी,

गोते लालो जय माता दी,

इसे भी पढ़ें   इतनी किरपा साँवरे बनाए रखना लिरिक्स | Itni Kirpa Sanware Banaye Rakhna Lyrics

मल मल नहालो जय माता दी,

जयकारे लालो जय माता दी,

सारे बोलो जय माता दी,

आती है मईया बुलाने वाला चाहिए,

बजती है ढोलक बजाने वाला चाहिए ॥

रुखा सुखा जैसा भी भोग जो लगाएगा,

खाती है मईया खिलाने वाला चाहिए,

आती है मईया बुलाने वाला चाहिए,

बजती है ढोलक बजाने वाला चाहिए ॥

माँ चरण पादुका जय माता दी,

तुम सिर को झुकाओ जय माता दी,

जय दर्शन देगी जय माता दी,

फिर कटे चौरासी जय माता दी,

बेटी भी बोले जय माता दी,

बेटा भी बोले जय माता दी,

बहु भी बोले जय माता दी,

सासु भी बोले जय माता दी,

आती है मईया बुलाने वाला चाहिए,

बजती है ढोलक बजाने वाला चाहिए ॥

मईया जी को लाल चुनर चोला बड़ा प्यार है,

सजती है मईया सजाने वाला चाहिए,

आती है मईया बुलाने वाला चाहिए,

बजती है ढोलक बजाने वाला चाहिए ॥

माँ तुम्हे बुलाये जय माता दी,

माँ किरपा बरसाए जय माता दी,

माँ भाग सवारे जय माता दी,

माँ पार उतरे जय माता दी,

माँ ज्वाला देवी जय माता दी,

माँ माँ चिंतापूर्ण जय माता दी,

माँ नैना देवी जय माता दी,

माँ कालका रानी जय माता दी,

आती है मईया बुलाने वाला चाहिए ॥

मईया के हरदम भरे ही भंडारे है,

भरती है झोलीया फ़ैलाने वाला चाहिए,

आती है मईया बुलाने वाला चाहिए,

बजती है ढोलक बजाने वाला चाहिए ॥

सारे बोलो जय माता दी,

करो सहाई जय माता दी,

श्री बाण गंगा जय माता दी,

पानी ठंडा जय माता दी,

गोते लालो जय माता दी,

मल मल नहालो जय माता दी,

जयकारे लालो जय माता दी,

सारे बोलो जय माता दी,

आती है मईया बुलाने वाला चाहिए,

बजती है ढोलक बजाने वाला चाहिए ॥

भर लायी गगरिया राम रस की भजन लिरिक्स

भर लायी गगरिया राम रस की,

राम रस की रे हरि के रस की

भर लायी गगरिया राम रस की,

राम रस की रे हरि के रस की ॥

ब्रह्मा ने पी ली विष्णु ने पी ली,

भोले बाबा ने पी ली लगाय चुस्की,

भर लायी गगरिया राम रस की,

राम रस की रे हरि के रस की ॥

राम जी ने पी ली लक्ष्मण ने पी ली,

भक्त हनुमत ने पी ली लगाय चुस्की

भर लायी गगरिया राम रस की,

राम रस की रे हरि के रस की ॥

साधुओं ने पी ली संतों ने पी ली,

मुनि नारद ने पी ली लगाय चुस्की,

भर लायी गगरिया राम रस की,

राम रस की रे हरि के रस की ॥

गोपियों ने पी ली सखियों ने पी ली,

सभी भक्तों ने पी ली लगाय चुस्की,

भर लायी गगरिया राम रस की,

राम रस की रे हरि के रस की ॥

जमुना किनारे मेरो गाँव साँवरे आ जइयो लिरिक्स

जमुना किनारे मेरो गाँव,

साँवरे आ जइयो, आ जइयो,

जमुना किनारे मेरो गाँव,

साँवरे आ जइयो, 

सांवरे आ जईयो, सांवरे आ जईयो, 

जमुना किनारे मेरो गाँव,

साँवरे आ जइयो, 

जमुना किनारें मेरी ऊँची हवेली,

मैं बृज की गोपिका नवेली, 

राधा रंगीली मेरो नाम, के बंसी बजा जइयो,

सांवरे आ जईयो, साँवरे आ जईयो,

जमुना किनारे मेरो गाँव,

साँवरे आ जइयो, 

मल मल के मैं तुजे नहलाऊं,

घिस घिस चंदन तिलक लगाऊँ,

पूजा करूँगी,

पूजा करूँगी सुबह शाम,

के माखन खा जइयो,

सांवरे आ जईयो, साँवरे आ जईयो,

जमुना किनारे मेरो गाँव,

साँवरे आ जइयो, 

खस खस को बँगला बनवाऊं,

चुन चुन कलियाँ, सेज सजाऊं,

धीरे धीरे, धीरे धीरे दाबू मैं पाँव, के प्रेम रस पा जइयो,

सांवरे आ जईयो, साँवरे आ जईयो,

जमुना किनारे मेरो गाँव,

साँवरे आ जइयो

भेष बदल कै कृष्ण आ ग्या बण के माँगन आळा लिरिक्स

नहाँ धोके मै बैठी भगतणी भजे राम की माला 

भेष बदल कै कृष्ण आ ग्या बण के माँगन आळा,

चिमटा ठा कै भाजी भगतणी ठहर जा माँगण आळा,

मेरी भक्ति में भंग गेर दिया मै फेरूँ थी माळा,

रे रहण दे भगतणी जाण दे भगतणी झूठी फेरे माळा,

उपरले तै राम रटे है तेरे भितरले में काळा, 

राम रटया ध्रुव भगत नै उमर का था वो याळा,

अरे धजा चढ़ी आकाश में दुनिया में होया उजाळा,

रे रहण दे भगतणी जाण दे भगतणी झूठी फेरे माळा,

उपर ले तै राम रटे है तेरे भितरले में  काळा,

राम रट्या था मीरा बाई ने, बण में ल्या लिया डेरा, 

आठ सौ झाळ त्याग दिए, ओने लेई काठ की माळा,

रे रहण दे भगतणी जाण दे भगतणी झूठी फेरे माळा,

उपर ले तै राम रटे है तेरे भितरले में  काळा,

राम रट्या था धन्ना भगत ने, बीज बाँट दिया सारा,

बोई काँकर काटे तूम्बे, अन्न उपज्या था अपारा,

रे रहण दे भगतणी जाण दे भगतणी, 

रे रहण दे भगतणी जाण दे भगतणी, झूठी फेरे माळा,

उपर ले तै राम रटे है तेरे भितरले में  काळा, 

राम रट्या था नरसी भगत ने, टोह लिया कृष्ण काळा,

हरनंदी के भात भरया, उड़े रोप दिया उने चाळा,

रे रहण दे भगतणी जाण दे भगतणी, 

रे रहण दे भगतणी जाण दे भगतणी, झूठी फेरे माळा,

उपर ले तै राम रटे है तेरे भितरले में  काळा,

नगरी हो अयोध्या सी रघुकुल सा घराना हो लिरिक्स

नगरी हो अयोध्या सी रघुकुल सा घराना हो

और चरण हो राघव के जहाँ मेरा ठिकाना हो 

हो त्याग भारत जैसा सीता सी नारी हो 

और लवकुश के जैसी संतान हमारी हो 

नगरी हो अयोध्या सी रघुकुल सा घराना हो

और चरण हो राघव के जहाँ मेरा ठिकाना हो 

श्रद्धा हो श्रवण जैसी शबरी सी भक्ति हो 

और हनुमत के जैसी निष्ठा और शक्ति हो 

नगरी हो अयोध्या सी रघुकुल सा घराना हो

और चरण हो राघव के जहाँ मेरा ठिकाना हो 

मेरी जीवन नैया हो प्रभु राम खेवैया हो 

और राम कृपा की सदा मेरे सर छय्या हो 

नगरी हो अयोध्या सी रघुकुल सा घराना हो

और चरण हो राघव के जहाँ मेरा ठिकाना हो 

सरयू का किनारा हो निर्मल जल धारा हो 

और दरश मुझे भगवन हरी घडी तुम्हारा हो 

नगरी हो अयोध्या सी रघुकुल सा घराना हो

और चरण हो राघव के जहाँ मेरा ठिकाना हो 

कौशल्या सी माई हो लक्ष्मण सा भाई 

और स्वामी तुम्हारे जैसा मेरा रघुराई हो 

नगरी हो अयोध्या सी रघुकुल सा घराना हो

और चरण हो राघव के जहाँ मेरा ठिकाना हो 

नगरी हो अयोध्या सी रघुकुल सा घराना हो

इसे भी पढ़ें   कंचन कांच का बनाया हनुमान Lyrics | Kanchan kaanch ka baniya re Hanuman Lyrics

और चरण हो राघव के जहाँ मेरा ठिकाना हो 

लिख देना गणपति भाग्य हमारा भी भजन लिरिक्स in Hindi

लिख देना लिख देना ओ गणपति,

भाग्य हमारा भी,

जैसे सबको दिया सहारा देना,

साथ हमारा भी,

लिख देना लिख देना ओ गणपति,

भाग्य हमारा भी ।

एक तो लिखना मात पिताजी,

एक तो लिखना मात पिताजी,

लिख देना लिख देना ओ गणपति,

प्यारा सा भैया जी,

लिख देना लिख देना ओ गणपति,

भाग्य हमारा भी ।

एक तो लिखना सास ससुरजी,

एक तो लिखना सास ससुरजी,

लिख देना लिख देना ओ गणपति,

प्यारा सजनवा जी,

लिख देना लिख देना ओ गणपति,

भाग्य हमारा भी ।

एक तो लिखना बेटा और बेटी,

एक तो लिखना बेटा और बेटी,

लिख देना लिख देना ओ गणपति,

बेटे को नौकरिया भी,

लिख देना लिख देना ओ गणपति,

भाग्य हमारा भी ।

चाहे जितनी लिखना उमरिया,

चाहे जितनी लिखना उमरिया,

लिख देना लिख देना ओ गणपति,

जाऊँ सुहागन ही,

लिख देना लिख देना ओ गणपति,

भाग्य हमारा भी ।

दूर रहूं मैं पाप दोष से,

दूर रहूं मैं पाप दोष से,

लिख देना लिख देना ओ गणपति,

ऐसी बुद्धि भी,

लिख देना लिख देना ओ गणपति,

भाग्य हमारा भी ।

लिख देना लिख देना ओ गणपति,

भाग्य हमारा भी,

जैसे सबको दिया सहारा देना,

साथ हमारा भी,

लिख देना लिख देना ओ गणपति,

भाग्य हमारा भी ।

मुश्किल है सहन करना ओ दर्द जुदाई का भजन लिरिक्स in Hindi

मुश्किल है सहन करना,

ये दरद जुदाई का,

मुझे कुछ तो बता प्यारे,

कारण रुसवाई का,

मुश्किल है सहन करना,

ये दर्द जुदाई का।

झूठे तेरे वादों पे इतबार क्या हमने,

तेरी कृपा को सुन कर ही,

अरे प्यार किया हमने, कन्हैया,

कृपा की ना होती जो आदत तुम्हारी,

तो सुनी ही रहती अदालत तुम्हारी,

ना हम होते मुलजिम,

ना तुम होते हाकिम,

ना घर घर में होती इबादत तुम्हारी,

गरीबों की दुनियाँ है आबाद तुमसे,

ग़रीबो से है बादशाहत तुम्हारी,

तुम्हारी उलफत के यह दृग बिन्दु है ये,

तुम्हे सौपते अमानत तुम्हारी,

झूंठें तेरे वादों पे एतबार क्या हमनें,

तेरी कृपा को सुन कर ही,

अरे प्यार किया हमने,

तुझे प्यार किया हमने,

क्या यही सिला मिलता,

इस प्रीत लगाई का,

मुझे कुछ तो बता प्यारे,

कारण रुसवाई का,

मुश्किल है सहन करना,

ये दर्द जुदाई का।

गर नजर में अवगुण थे तो,

क्यों अपनाया था,

ये प्रीत ना निभ सकती,

पहले ना बताया था, ऐ कन्हैया,

सब कुछ ले के परीक्षा है लेते,

अब कौन सी रह चले संसारी,

अरे ऐसा मोहक जाल बिछाये,

भैया थक कर रह गई बुद्धि बिचारी,

अरे ऐसा मोहक जाल बिछाये,

भैया थक कर रह गई बुद्धि बिचारी,

सोच समझ कर सौदा किजे,

ये नंद का लाल बड़ा व्यापारी,

गर नज़र में अवगुण थे तो,

क्यों अपनाया था,

ये प्रीत ना निभ सकती,

पहले ना बताया था,

पहले ना बताया था,

मौका तो दिया होता,

मेरे मीत सफाई का,

मुझे कुछ तो बता प्यारे,

कारण रुसवाई का,

मुश्किल है सहन करना,

मुश्किल है सहन करना,

ये दर्द जुदाई का।

तुम सा कोई मिल जाता, तो ढूंढ लिए होते,

क्यों प्यार तुम्हे करते, क्यों तेरे लिए रोते,

तजते घर बार व्यथा हम क्यों,

गर मोहन तेरा इशारा ना होता,

रहते हम भी भवसागर में है,

गर पहले किसी को उबारा ना होता,

इस प्रेम के पंथ में हे प्रभु,

सर देकर भी छुटकारा ना होता,

हम रोते ही क्यों बिलखा करके,

गर तू मन प्राण हमारा ना होता,

तुझसे में क्या कहू,

तेरे सामने मेरा हाल है,

तेरी एक नजर की बात है,

मेरा जिंदगी का सवाल है,

तुम सा कोई मिल जाता,

तो ढूँढ लिए होते,

क्यों प्यार तुम्हे करते,

क्यों तेरे लिए रोते,

क्यों तेरे लिए रोते,

मुख मोड़ के क्यों बैठे,

क्या मान खुदाई का,

मुझे कुछ तो बता प्यारे,

कारण रुसवाई का,

मुश्किल है सहन करना,

मुश्किल है सहन करना,

ये दर्द जुदाई का।

मुश्किल है सहन करना,

ये दरद जुदाई का,

मुझे कुछ तो बता प्यारे,

कारण रुसवाई का,

मुश्किल है सहन करना,

ये दर्द जुदाई का।

माँ भक्तों ने घेर लई अकेली भवन चली लिरिक्स 

मां भक्तों ने घेर लई, अकेली भवन चली,

माँ भक्तों ने घेर लई, अकेली भवन चली।

गोरे गोरे माथे पे लाल लाल बिंदिया,

मांग सिंदूर भरी अकेली भवन चली,

मां भक्तों ने घेर लई, अकेली भवन चली,

माँ भक्तों ने घेर लई, अकेली भवन चली।

मैया जी के गले में फूलों की माला,

बीच में चंपा कली अकेली भवन चली,

मां भक्तों ने घेर लई, अकेली भवन चली,

माँ भक्तों ने घेर लई, अकेली भवन चली।

गोरे गोरे हाथों में लाल लाल चूड़ियां,

हथेली में मेहंदी रची अकेली भवन चली,

मां भक्तों ने घेर लई, अकेली भवन चली,

माँ भक्तों ने घेर लई, अकेली भवन चली।

गोरे गोरे पांव में पायल सोहे,

मां ठुमक ठुमक निकली अकेली भवन चली,

मां भक्तों ने घेर लई, अकेली भवन चली,

माँ भक्तों ने घेर लई, अकेली भवन चली।

मंदिर का पुजारी यूं बोला मां से,

बन ठन कहां को चली अकेली भवन चली,

मां भक्तों ने घेर लई, अकेली भवन चली,

माँ भक्तों ने घेर लई, अकेली भवन चली।

मेरे भक्तों के संकट भारी,

मैं संकट हरने चली अकेली भवन चली,

मां भक्तों ने घेर लई, अकेली भवन चली,

माँ भक्तों ने घेर लई, अकेली भवन चली।

मेरे राम दया के सागर हैं भजन लिरिक्स in Hindi

मेरे राम दया के सागर हैं,

मेरी बिगड़ी बनाओ तो जाने।

मेरे राम दया के सागर हैं,

मेरी बिगड़ी बनाओ तो जानें।

त्रेता में आये तो क्या आये,

कलयुग में आओ तो जाने,

मेरे राम दया के सागर हैं,

मेरी बिगड़ी बनाओ तो जानें।

अयोधा में आये तो क्या आये,

मेरे घर में आओ तो जाने,

मेरे राम दया के सागर हैं,

मेरी बिगड़ी बनाओ तो जानें।

मंदिर में आये तो क्या आये,

मेरे ह्रदय में आओ तो जाने,

मेरे राम दया के सागर हैं,

मेरी बिगड़ी बनाओ तो जानें।

मेरे राम दया के सागर हैं,

मेरी बिगड़ी बनाओ तो जाने।

मेरे राम दया के सागर हैं,

मेरी बिगड़ी बनाओ तो जानें।

जमुना किनारे मेरो गाँव साँवरे आ जइयो लिरिक्स in Hindi

जमुना किनारे मेरो गाँव,

साँवरे आ जइयो, आ जइयो,

जमुना किनारे मेरो गाँव,

साँवरे आ जइयो, 

सांवरे आ जईयो, सांवरे आ जईयो,

इसे भी पढ़ें   लाल चुनरिया ओढ़ ली मेरे बांके सांवरिया | Lal Chunariya Odh Li Maine Lyrics

जमुना किनारे मेरो गाँव,

साँवरे आ जइयो,

जमुना किनारें मेरी ऊँची हवेली,

मैं बृज की गोपिका नवेली, 

राधा रंगीली मेरो नाम, के बंसी बजा जइयो,

सांवरे आ जईयो, साँवरे आ जईयो,

जमुना किनारे मेरो गाँव,

साँवरे आ जइयो, 

मल मल के मैं तुजे नहलाऊं,

घिस घिस चंदन तिलक लगाऊँ,

पूजा करूँगी,

पूजा करूँगी सुबह शाम,

के माखन खा जइयो,

सांवरे आ जईयो, साँवरे आ जईयो,

जमुना किनारे मेरो गाँव,

साँवरे आ जइयो, 

खस खस को बँगला बनवाऊं,

चुन चुन कलियाँ, सेज सजाऊं,

धीरे धीरे, धीरे धीरे दाबू मैं पाँव, के प्रेम रस पा जइयो,

सांवरे आ जईयो, साँवरे आ जईयो,

जमुना किनारे मेरो गाँव,

साँवरे आ जइयो,

जरा चल के वृंदावन देखो लिरिक्स 

जरा चल के वृंदावन देखो 

श्याम बंसी बजाते मिलेंगे 

झूला झूलती मिलेंगी राधा रानी 

और मोहन झूलाते मिलेंगे

वहां बांके बिहारी की झांकी 

बड़ी अनुपम अनोखी है बाकी 

वहां रहती है ग्वालो की टोलियां 

वह तो माखन चुराते मिलेंगे

वहां रहती है मीरा दीवानी 

वह तो मोहन के मन की है रानी 

बोली राणा जी घर अपने जाओ 

मेरे मोहन कभी तो मिलेंगे

जरा चल के वृंदावन देखो 

श्याम बंसी बजाते मिलेंगे

राधे बिना श्याम मिलें कैसे तुलसी बिना भोग लगे कैसे लिरिक्स

राधे बिना श्याम मिलें कैसे

 तुलसी बिना भोग लगे कैसे 

गंगा नहाई मैं तो यमुना भी नहाई 

सरयू बिना पाप मिटें कैसे 

राधे बिना श्याम मिलें कैसे

बैकुंठ गईं मैं अयोध्या को गई थी 

वंदावन श्याम मिलें कैसे 

राधे बिना श्याम मिलें कैसे

मंदिर में ढूंढा गुरुद्वारे ढूंढा मेरे 

हृदय में दयानिधि मिलें कैसे 

राधे बिना श्याम मिलें कैसे

हलवा बनाई मैं तो पूरियां बनाई 

छप्पन भोग की थाल लगाई 

शालिग्राम बिना भोग लगे कैसे

राधे बिना श्याम मिलें कैसे

धीरे-धीरे छोड़ दे दुनिया के मायाजाल को लिरिक्स

धीरे-धीरे छोड़ दे दुनिया के मायाजाल को 

भज ले गोविंद प्यारे भज ले गोपाल को

तु कहता है यह बेटा है मेरा

बेटा तो 1 दिन पड़ोसी हो जाएगा

मिट्टी का खिलौना तेरी मिट्टी में मिल जाएगा 

धीरे-धीरे छोड़ दे दुनिया के माया जाल को 

भज ले गोविंद प्यारे भज ले गोपाल को

तु कहता है यह बेटी है मेरी

बेटी तो 1 दिन जवाई ले जाएगा 

माटी का खिलौना माटी में मिल जाएगा 

धीरे-धीरे छोड़ दे दुनिया के मायाजाल को 

भज ले गोविंद प्यारे भज ले गोपाल को

तू कहता है यह साथी है मेरे 

साथी तो 1 दिन बराती बन जाएंगे 

माटी का खिलौना माटी में मिल जाएगा 

धीरे-धीरे छोड़ दे दुनिया के मायाजाल को 

भज ले गोविंद प्यारे भजले गोपाल को

राणा जी तेरी एक ना मानूंगी रोज सत्संग में जाऊंगी लिरिक 

राणा जी तेरी एक ना मानूंगी

रोज सत्संग में जाऊंगी 

वहां पर ब्रह्मा जी आएंगे वहां विष्णु जी आएंगे 

भोले जी के दर्शन पाऊंगी रोज सत्संग में जाऊंगी

राणा जी तेरी एक ना मानूंगी 

रोज सत्संग में जाऊंगी

मीरा री तुम कैसे जाओगी

रास्ते में तेरे ससुर जी मिल जाएंगे 

ससुर से पल्ला कर लूंगी रोज सत्संग में जाऊंगी

राणा जी तेरी एक ना मानूंगी रोज सत्संग में जाऊंगी

वहां श्री राम जी आएंगे

वहां हनुमान जी आएंगे

सिया के दर्शन कर आऊंगी रोज सत्संग में जाऊंगी 

राणा जी तेरी एक ना मानूंगी रोज सत्संग में जाऊंग

मीरारी तुम कैसे जाओगी 

रास्ते में तेरे जेठ जी मिल जाएंगे 

जेठ से आज्ञा ले लूंगी 

रोज सत्संग में जाऊंगी 

राणा जी तेरी एक ना मानूंगी 

रोज सत्संग में जाऊंगी

भर लायी गगरिया राम रस की राम रस की रे हरि के रस की लिरिक्स 

भर लायी गगरिया राम रस की, 

राम रस की रे हरि के रस की

ब्रह्मा ने पी ली विष्णु ने पी ली, 

भोले बाबा ने पी ली लगाय चुस्की, 

राम रस की रे हरि के रस की

राम जी ने पीली लक्ष्मण ने पी ली, 

भक्त हनुमत ने पी ली लगाय चुस्की 

राम रस की रे हरि के रस की

गोपियों ने पी ली सखियों ने पी ली, 

सभी भक्तों ने पी लीलगाय चुस्की, 

मुनि नारद ने पी ली लगाय चुस्की,

भोले नाथ तुम्हारे मंदिर में अजब नजारा देखा है लिरिक्स

भोले नाथ तुम्हारे मंदिर में 

अजब नजारा देखा है

मैं दूध का लोटा लाई हूं 

भोले तुम्हें चढ़ाने आई हूं 

भोलेनाथ तुम्हारी जटाओं में 

गंगा ने डेरा डाला है

में घिस घिस चंदन लाई हूं 

भोले तिलक लगाने आई हूं 

भोलेनाथ तुम्हारे मस्तक पर 

चंदा ने डेरा डाला है

मैं चुनचुन फूल ले आई हूं 

भोले हार पहनाने आई हूं 

भोलेनाथ तुम्हारे गले में 

नागों ने डेरा डाला है.

मैं चुन-चुन के फल लाई हूं 

भोले तुम्हें चढ़ाने आई हूं 

भोलेनाथ तुम्हारी पिंडी पर

ये भांग धतूरा चढ़ता है

मैं सावन महीने आई हूं 

भोले बेलपत्र ले आई हूं 

भोलेनाथ तुम्हारे तन पर 

तो भस्मी और छाला रहता है

में ढोलक मंजीरा लाई हूं 

भोले भजन सुनाने आई हूं 

भोलेनाथ तुम्हारे हाथों में 

डम डम डमरू बजता है

श्याम बाबा भजन हम तो बाबा के भरोसे चलते हैं लिरिक्स 

हम तो बाबा के भरोसे चलते हैं, 

ये दुनिया वाले जलते हैं,

हम तो बाबा के भरोसे चलते है,

बाबा ने हमको चलना सिखाया, 

सब भक्तो से मिलना सिखाया,

हम तो सीना तान निकलते हैं, 

हम तो बाबा के भरोसे चलते है,

बाबा हमारा साथी कहाए,

बन के सहारा नाती कहाए,

हम तो इनके भरोसे पलते हैं,

हम तो बाबा के भरोसे चलते है,

दुनिया वाले क्या पहचाने, 

श्याम हमारे दिल की जाने, 

इनके नाम से संकट टलते हैं,

हम तो बाबा के भरोसे चलते है

‘दास’ भजन सुनाए, 

बाबा ये तेरी किरपा चाहे, 

इनके नाम के दीपक जलते हैं,

हम तो बाबा के भरोसे चलते है,

धीरे-धीरे छोड़ दे दुनिया के मायाजाल लिरिक्स 

धीरे-धीरे छोड़ दे दुनिया के मायाजाल को भज ले गोविंद प्यारे भज ले गोपाल को

तू कहता है यह बेटा है मेरा बेटा तो एक दिन पड़ोसी हो जाएगा माटी का खिलौना माटी में मिल जाएगा

 तू कहता है यह बेटी है मेटी, बेटी एक दिन जवाई ले जाएगा माटी का खिलौना माटी में मिल जाएगा

तू कहता है यह साथी हे मेरे, साथी तो एक दिन बटाती बन जाएंगे

माटी का खिलौना माटी में मिल जाएगा

तू कहता है यह जाती है मेरा, नाती तो एक दिन मुँह मोड़ जाएगा माटी का खिलौना माटी में मिल जाएगा

अपनों से साझा करें

Leave a Comment